• support@answerspoint.com

BIOS क्या है? यह कैसे काम करती है? What is BIOS? How does it work?

BIOS क्या है?

BIOS एक Software Program है, यह एक ऐसा Program है जो कि Computer Open करने के एकदम शुरुआत में Start होता है|

या हम ये भी कह सकते है की सबसे पहले जो हमारे Computer System में Program Run होता है उसे ही BIOS कहते है|  

यह एक Basic input output systems है जो हमारे Computer system की Fundamental activities , Input output devices Or Basic components को Configure या Initialize करता है

यह BIOS हमारे Computer system के Basics features को ऑन और ऑफ करने का काम भी करती है BIOS को Firmware के नाम से भी जानते है यह Non-Voletile memory की तरह कार्य करता है, और जब  हमारे Computer system की Power off होता है तो BIOS की settings पर कोई effects नहीं पड़ता है।

 

BIOS Setup को कैसे खोले।

Computer Formatting के समय BIOS को Directly open करनें के लिए बहुत सी Shortcut keys होती है जैसे F2, F12 , Delete , Esc, etc इन्हें लगातार Press करनें पर 4 - 5  Second में BIOS और CMOS open हो जाता है।

 

 

BIOS कहाँ पर Store रहता है।

BIOS हमारे Computer system के Mother board में एक Chip होती है जिसे CMOS यानी Complementary metal oxide semiconductor के नाम से जानते हैं इस Electronic chip में BIOS की पूरी Settings स्टोर रहती है। जब कभी हम अपने Computer system की Settings से छेड़छाड़ या बदलते हैं तो Motherboard में लगा हुआ CMOS, BIOS की Settings को सुरक्षित रखे रहता है तथा ये Computer system की Battery के निकले जाने पर भी Computer की Date और Time को defoult set कर लेता है।

 

BIOS क्या काम करती है।

BIOS हमारे Computer System में एक Security Guard की तरह काम करता है यह Computer system के अंदर जाने से पहले पूरी जानकारी लेता है | अगर सारे Features Computer system में नहीं हुए तो हमारा System Start नहीं होगा

BIOS पूरी रूप रेखा तैयार करके Processor के माध्यम से हमारे System को ऑन करनें के लिए कहता है जहाँ पर Window का Option आता है उस जगह पर BIOS का काम खत्म हो जाता है|

BIOS के कारण ही हमारे Computer System की Timing और Date और हर तरह का Data जो ROM में Save रहता है|

BIOS का मुख्य रूप से Computer System के Operating System को Boot कराने का काम करता है और हमारे Operating System को Computer में Load कराने का काम भी करता है यह Power on Self Test (POST) पर काम करती है तथा कौन सी Device Boot होने के लायक है उसका Selection भी करती है।

 

    Facebook Share        
       
  • asked 4 weeks ago
  • viewed 79 times
  • active 4 weeks ago

Latest Blogs