• support@answerspoint.com

भारत के नियोजन की असफलताएँ लिखिए। Write the failures of employment in India.

509

भारत के नियोजन की असफलताएँ लिखिए। Write the failures of employment in India.

1Answer


0

भारतीय नियोजन की प्रमुख असफलताएँ :-

क्षेत्रीय असंतुलन :- नियोजन के बाद देश में क्षेत्रीय असंतुलन कम होना चाहिए था लेकिन उसमें कोई विशेष परिवर्तन नहीं हुआ है। आज भी उत्तर प्रदेश, उड़ीसा, बिहार आदि राज्य पिछड़े हुए हैं जबकि पंजाब, हरियाणा, महाराष्ट्र, आदि राज्य तुलनात्मक रूप से विकसित श्रेणी में हैं।

प्रति व्यक्ति आय में धीमी प्रगति :- भारत में आर्थिक नियोजन के बाद भी प्रति व्यक्ति आय में वृद्धि बहुत ही धीमी गति से हुई है। भारत में लगभग 21 प्रतिशत जनसंख्या अभी भी गरीबी रेखा के नीचे जीवनयापन कर रही है।

बेरोजगारी में वृद्धि :- आर्थिक नियोजन का एक महत्वपूर्ण उद्देश्य बेरोजगारी में कमी करना था लेकिन हर योजना के अन्त में बेरोजगारी बढ़ती ही गई।

आय व धन की असमानता में वृद्धि :- आर्थिक नियोजन का महत्वपूर्ण उद्देश्य धन के केन्द्रीयकरण को समाप्त कर आर्थिक समानता को बढ़ाना था लेकिन नियोजन के बावजूद धनी व्यक्ति अधिक धनी व गरीब और गरीब होता गया है।

सार्वजनिक उद्यमों की असफलता :- देश में सार्वजनिक क्षेत्र में उद्यमों की संख्या 242 है। इनमें से अनेक उपक्रम हानि में चल रहे हैं। अतः सार्वजनिक उद्यम आशा के अनुरूप परिणाम देने में असमर्थ रहे हैं।

मूल्य वृद्धि :- नियोजन अवधि में मूल्यों में निरन्तर वद्धि होती जा रही है। अनुमान है कि नियोजन अवधि में कीमतों में लगभग 27 गुनी से अधिक की वृद्धि हुई है।

  • answered 4 months ago
  • Community  wiki

Your Answer

    Facebook Share        
       
  • asked 4 months ago
  • viewed 509 times
  • active 4 months ago

Hot Questions