• support@answerspoint.com

परीक्षा के लिए तैयारी कहाँ से और कैसे start करे

1771

मैट्रिक , इंटर और प्रतियोगिता परीक्षा के लिए तैयारी कहाँ  से और कैसे start करे

4Answer


0

प्रतियोगी परीक्षा हमारे स्कूल व कॉलेज परीक्षा से बिल्कुगल अलग होती है, इसलिए इसमें अलग तरह की तैयारी की आवश्यकता होती है। इसलिए हम आपकों कुछ ऐसे टिप्स बता रहे हैं जिनसे आप आसानी से परीक्षा में सफल हो सकते हैं। आगे की स्लाइड्स में देखें कैसे करें प्रतियोगी एग्जाम की तैयारी।

1. लक्ष्य निर्धारित करें: हम प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करते वक्त अपना लक्ष्य निर्धारित नहीं करते हैं। ये सही बात है कि सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में लगभग एक जैसा ही कोर्स आता है। लेकिन पहले लक्ष्य निर्धारित करें कि हमें कौनसी परीक्षा की लिए तैयारी करनी है। क्योंकि हर परीक्षा के लिए अलग रणनीति बनाई जाती है।


2. एक रणनीति बनाएं: किसी भी काम को शुरु करने से पहले एक रणनीति बनाना जरुरी होता है। ठीक उसी तरह परीक्षा की तैयारी के लिए भी एक रणनीति बनाना जरुरी होती है। इसमें आप सब्जेक्ट, टॉपिक आदि के आधार पर रणनीति बनाएं। उसी के अनुसार अपनी पढाई को स्टेप बाई स्टेप करें। ऐसा करने से आपको सफलता जरुर मिलेगी।


3. टाइम मैनेजमेंट से बनेगी बात: ऑब्जेक्टिव टाइप के प्रश्नों में टाइम मैनेजमेंट अहम होता है। यह एक दिन में संभव नहीं है। यह तभी संभव है, जब आप इसका अभ्यास करते हैं। आपके लिए बेहतर होगा कि निर्धारित समय-सीमा के अंदर प्रश्नों को हल करने का अभ्यास करें। इससे परीक्षा हॉल में किसी तरह की परेशानी नहीं होगी।


4. लगातार अध्ययन: कई लोग परीक्षाओं में पास होने के लिए परीक्षा के समय ही पढ़ते हैं और अपनी कोर्स की किताबों को ही पढ़ते हैं। लेकिन प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता हासिल करने के लिए रोज पढ़ना जरुरी है। जिसमें अखबार और समाचार चैनल सबसे कारगार साबित होते हैं। इसलिए अखबार जरुर पढें।


5. परीक्षा में इन बातों का रखें ध्यान: अधिकतर प्रतियोगी परीक्षाओं में पेपर प्रश्न ऑब्जेक्टिव होते हैं। बीच-बीच में कई प्रश्न ऐसे दिए जाते हैं, जिनसे प्रतिभागी को दुविधा हो। पेपर हल में इस बात का ध्यान रखें कि जो प्रश्न आपको सरल लगे, उन्हें हल करें। कठिन प्रश्नों को बचे हुए समय में हल करने का प्रयास करें। गणित में दसवीं के प्रश्नों का हल होता है। 


6. परीक्षा से पहले रिलेक्स: कई लोग परीक्षा शुरु होने के कुछ घंटो पहले बहुत ज्यादा पढाई करते हैं या दिमाग पर जोर देते हैं। ऐसा करने से परीक्षा के समय आप घबरा जाते हैं। इसलिए परीक्षा के कुछ घंटों पहले ही किताबों को दूर कर दें और दिमाग को रिलेक्स करें।


7. इंटरव्यू: बैंक प्रोबेशनरी ऑफिसर परीक्षा में सफलता के लिए ऑब्जेक्टिव एक्जाम, समूह चर्चा और इंटरव्यू के लिए समुचित तैयारी जरूरी है। विभिन्न प्रकार के प्रश्नों की तैयारी के लिए अच्छे से अच्छे संदर्भ, पिछले वर्षों के हल प्रश्नपत्र और प्रतियोगी परीक्षाओं की मासिक पत्रिका की मदद लें।


8. बेसिक पढ़ाई से शुरुआत करें: सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में बुनियादी तरीके से सवाल बनाए जाते हैं। इसलिए आप छोटी कक्षाओं की किताबों से पढ़ना शुरु करें। या फिर किसी भी टॉपिक या सब्जेक्ट की बेसिक जानकारी लें उसके बाद आगे की पढ़ाई करना शुरु करें।


9. संसाधन तैयार रखें: रणनीति बनाने के बाद जब भी आप पढाई शुरू करें उससे पहले आप उस रणनीति के अनुसार संसाधन भी जुटा लें। जैसे अगर आप सब्जेक्ट के आधार पर पढ़ाई कर रहे हैं तो उस सब्जेक्ट से संबंधित पूरा डेटा इकट्ठा कर लें। उसमें किताबें, नोट्स, नेट से जानकारी आदि शामिल है।


10. कोचिंग संस्थान में शामिल हो: किसी भी प्रतिभागी परीक्षा में सफलता हासिल करने के लिए एक कोचिंग संस्थान में शामिल होना जरुरी है। इससे आपकी पढ़ाई नियमित रहती हैं और आप को रिजनिंग आदि की ट्रिक्स पता चलती है। क्योंकि आप कितने भी पढाई में समर्थ हो लेकि‍न एक सही मार्गदर्शन एक प्रोफेश्नल्स ही दे सकते है।

  • answered 2 years ago
  • Community  wiki

0

प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी

दोस्तों,  प्रतियोगिता परीक्षा में टॉप करने वालों पर सभी नाज करते हैं और सोचते हैं कि टॉपर्स में कुछ तो अलग बात होती है, तभी ये इतने ऊँचे मुकाम पर पहुचें हैं, परन्तु जब इन्हीं बातों को टॉप करने वालों से पूछते है तो उनका उत्तर होता है कि वे खास नहीं हैं, बल्कि उन्होंने भी दूसरों की तरह ही प्रतियोगिता परीक्षा तैयारी की है ।

आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको बताएंगे की topper क्या कहते है कि कैसे प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कैसे की जाये | यहां पर आपको topper के द्वारा दी गई टिप्स कुछ इस प्रकार है |

प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी हेतु क्या कहते है topper –

लक्ष्य है जरूरी-

किसी भी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए सबसे प्रमुख होता है लक्ष्य को निर्धारित करना | यदि हम लक्ष्य को निर्धारित नहीं करते है तो हमारे द्वारा किया गया प्रयास गलत दिशा में हो सकता है | यदि हमने पहले ही लक्ष्य का निर्धारण कर लिया है तो हमें हमारे द्वारा की गई मेहनत तथा प्रयास सफलता की ओर होता है | इस लिए toppers का मानना है की प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी हेतु लक्ष्य चुनना बहुत ही जरूरी है |

आत्मविश्वास है जरूरी –

किसी भी परीक्षा की तैयारी के लिए आत्मविश्वास सबसे महत्वपूर्ण अंग होता है | यदि हमारे अंदर आत्म विश्वास नहीं है तो हम कोई भी प्रतियोगी परिक्षा को सफल बनाने में कामयाबी नहीं हासिल कर सकते है | इस लिए अपने अंदर आत्म विश्वास की कमी न होने दें | आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए मोटिवेशनल बुक्स, घर-परिवार के सदस्य या किसी योग्य व्यक्ति की यदि सहायता लेते है तो आत्म विश्वास आपका कभी भी कम नहीं होगा |

परिश्रम व लगन है जरूरी-

प्रतियोगी परीक्षा उत्तीर्ण करना आसान नहीं होता है इस तरह की परीक्षाओं के लिए सबसे आवश्यक है लगन । इसके अलावा छात्र को यह भी ज्ञात होना चाहिए कि वह जिस परीक्षा में वह बैठने की तैयारी कर रहा हैं उसके लिए उसे कितने परिश्रम की जरूरत है । परीक्षा में अपना शत प्रतिशत देने के लिए पूरा प्रयास करना बहुत अधिक महत्वपूर्ण होता है।

तैयारी हेतु जरूरी समय-

किसी भी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी हेतु 3-6 महीनो का समय पर्याप्त समय होता है | इसके अतिरिक्त हमें यह भी ध्यान में रखना जरूरी होता है कि प्रतिदिन हमें कितना समय देना है अपनी तैयारी के लिए | आप जितना अधिक समय अपनी परीक्षा की तैयारी में देंगे आप परीक्षा में भी अपने आपको उतना अच्छा प्रस्तुत कर पाएँगे । परन्तु इसका अर्थ यह भी नहीं है कि मनोरंजन के लिए आप समय बिलकुल न दें उसके लिए भी पर्याप्त समय दें। एक अच्छी तैयारी हेतु दिमाग का तरोताजा होना भी बहुत महत्वपूर्ण है। इसके लिए आप नियमित व्यायाम या अन्य कोई खेल भी चुन सकते हैं परन्तु ध्यान रहें मनोरंजन के लिए कुछ ऐसा न चुने जिससे आपको स्टडी करने में बाधा प्रकट हो |

विषय-वस्तु है जरूरी –

यदि स्टडी सही और सुचारु ढंग से करनी है तो अच्छे मटेरियल का चुनाव बहुत महत्व होता है । अगर आपके पास स्टडी के लिए पर्याप्त विषय वस्तु नहीं है तो आपको तैयारी करने में बहुत अधिक समस्या होगी । इसलिए अगर प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी सही तरीके से करनी है तो उसके लिए पर्याप्त विषय-वस्तु सबसे महत्पूर्ण होगा ।

इंस्टिट्यूट की मदद होगी फायदेमंद-

यदि आप स्वयं से स्टडी करने में सफल नहीं है तो यदि आप किसी कोचिंग इंस्टिट्यूट की मदद ले रहें है तो आपके लिए फायदेमंद सिद्ध होगा , क्योंकि यदि स्वयं स्टडी करते समय आपके समक्ष कोई समस्या आती है तो आप अपनी समस्या का निवारण क्लास रूम में डिस्कस कर सकते है | जिससे आपकी समस्या का निवारण मिल जायेगा |

किसी इंस्टिट्यूट की सहायता लेने से हमारे कोई भी विषय पेंडिंग में नहीं रहते है | सभी विषय समय के साथ एक नियमबद्ध तरीके से चलते है | इस लिए प्रतियोगी परीक्षा के लिए यदि आप किसी इंस्टिट्यूट की सहायता लेंगे तो आप एक सफल तैयारी कर सकेंगे |

ग्रुप स्टडी से मिल सकती है मदद-

प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए आप यदि ग्रुप स्टडी की सहायता लेते है तो आप अच्छी तैयारी कर सकते है क्योंकि ग्रुप स्टडी करके हम कोई भी एक टॉपिक पर डिसकशन करके उसे ठीक से समझ सकते है | ग्रुप स्टडी भी प्रतियोगी परीक्षा हेतु लाभदायक होता है |

नियमित स्टडी है जरूरी-

किसी भी प्रतियोगी परीक्षा को सफल बनाने के लिए सबसे मुख्य है नियमित स्टडी करना | यदि आप नियमित स्टडी नहीं करते है तो आप इस परीक्षा में सफलता प्राप्त नहीं कर सकते है | यदि आपको नियमित स्टडी करने में समस्या आ रही है तो आप उसके लिए समय सारणी का भी प्रयोग कर सकते है जिसकी मदद से आपको नियमित स्टडी करने में मदद प्राप्त होगी |

परीक्षा के लिए जरूरी-

परिक्षा के दिन पूर्ण रूप से अपने आपको रिलैक्स रखें । किसी भी तरह की मन में किसी भी प्रकार की घबराहट न आने दें | अपने दिल और दिमाग को संतुलित रखें । अपने अंदर आत्मविश्वास की कमी न होने दें ,और परीक्षा में अपना शत-प्रतिशत दें | यदि परीक्षा नेगेटिव मार्किंग है तो सही प्रश्नों के उत्तर दें | जो प्रश्न न आता हो उसपर व्यर्थ समय न गवाएं | अंत में समय बचने पर छोड़े गए प्रश्नों को हल करने का प्रयास करें |

दोस्तों, इस आर्टिकल के माध्यम से बताई गई Topper की ज़ुबानी के द्वारा आपको प्रतियोगी परीक्षा सफल बनाने हेतु अवश्य मदद प्राप्त होगी | दी गई जानकारी के के द्वारा अब आप अपनी परीक्षा को अवश्य सफल बना सकेंगे | यदि अभी भी आपके मन में कोई प्रश्न या दुविधा मन में आ रहे तो आप कमेंट बॉक्स के माध्यम से जरूर पूछें | आपके द्वारा दी गई प्रतिक्रिया का हमें इंतजार है |

  • answered 2 years ago
  • Community  wiki

0

प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कैसे करे | निश्चित सफलता के खास टिप्स

प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कैसे करे

क्या आप जानते हो कि प्रतियोगिता परीक्षा हमारी स्कूल व कॉलेज की परीक्षा से बिल्कुल अलग होती है| इसलिए इसकी तैयारी के लिए आपको खास टिप्स पता होने चाहिए| जो प्रतिभागी “प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कैसे करे” इससे सम्बन्धित जानकारी जानना चाहते है, तो नीचे दिए गये प्रतियोगिता परीक्षा में निश्चित सफलता के खास टिप्स को ध्यानपूर्वक पढने की आवश्यकता है|

भारत में कई प्रतियोगी परीक्षाओं स्नातक और स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों करने के साथ ही सरकारी क्षेत्र में नौकरियों के लिए प्रवेश के लिए आयोजित की जाती हैं। इसलिए परीक्षा के अनुसार परीक्षण प्रारूपों और विषय भिन्न होते हैं।

अधिकतर परीक्षा में जा रहे प्रतिभागियों के मन में प्रश्न होते है, कि प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कैसे करे या मझे परीक्षा के लिए कैसे तैयारी करनी चाहिए| इसलिए आप परीक्षा मे जाने से पूर्व नीची लिखी हुई बातो को ध्यान में रख कर तैयारी कर सकते हो|

sarkarinaukriinhindi.com इस पेज पर प्रतियोगी परीक्षा में भाग ले रहे सभी प्रतिभागियों के लिए कुछ महत्वपूर्ण टिप्स वर्णित किये है, कृपया ध्यानपूर्वक पढ़े|

प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कैसे करे के खास टिप्स

एक रणनीति बनाएं:

प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कैसे करेकिसी भी कार्य को प्रारम्भ करने से पूर्व एक रणनीति बनाना जरुरी है, इसलिए परीक्षा की तैयारी के लिए भी एक रणनीति बनानी चाहिए| परीक्षा के लिए आप सब्जेक्ट, टॉपिक आदि के आधार पर रणनीति बना सकते हो| बनाई गयी रणनीति के अनुसार आप किसी भी प्रतियोगी परीक्षा में सफल अवश्य होंगे|

टाइम मैनेजमेंट से बनेगी बात:

प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कैसे करेआज कल प्रतियोगी परीक्षाओं में पेपर प्रश्न ऑब्जेक्टिव होते ही है, इसलिए इन प्रश्नों के लिए टाइम मैनेजमेंट अहम होता है। और टाइम मैनेजमेंट तबो हो सकता है जब आप इसका अभ्यास करोगे| इस लिए आपको परीक्षा से पहले आपको समय-सीमा के अंदर प्रश्नों को हल करने का अभ्यास करना होगा| यदि आप ये सब पहले ही निधार्रित कर लोगे, तो आपको परीक्षा हॉल में कोई परेशानी नहीं होगी|

परीक्षा के समय ध्यान देने योग्य बातें:

प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कैसे करेआज कल प्रतियोगी परीक्षाओं में पेपर प्रश्न ऑब्जेक्टिव होते हैं। परीक्षा देने जब भी जाये तो उसे 1 घंटा पहले कुछ भी न पढ़े अपना दिमाग शांत रखने के लिए अपने आप को हंसी मजाक में व्यस्त रखे| परीक्षा से पहले नींद का पूरा होना बहुत जरुरी है| इसलिए परीक्षा से पहले पूरी रात को पढाई नहीं करनी चाहिए| परीक्षा में आये सारें सवाल को एक बार अच्छे से और शांत मन से पूरा पढना चाहिए| सबसे पहले जो भी प्रश्न आपको आता है उसे करे न की दूसरे प्रश्न पर अपना समय बर्बाद करे|

ग्रुप स्टडी से मिल सकती है मदद:

प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कैसे करेप्रतियोगी परीक्षा के लिए आप किसी स्टडी ग्रुप के साथ जुड़ सकते हो| ग्रुप की सहायता से आप किसी भी एक टॉपिक पर विचार-विमर्श करके उसे ध्यान से और अच्छे से समझ सकते हो| इसलिए ग्रुप स्टडी भी प्रतियोगी परीक्षा हेतु लाभदायक होता है|

कोचिंग संस्थान में शामिल हो:

प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कैसे करेयदि आप किसी प्रतियोगिता परीक्षामें भाग ले रहे है, तो आपको कोचिंग संस्थान में शामिल होना चाहिए| कोचिंग संस्थान में शामिल होने से रिजनिंग आदि की ट्रिक्स के विषय में पता चलता है| पढाई में समर्थ होने पर भी हमे किसी प्रोफेश्नल्स से सलाह लेनी चाहिए| और कोचिंग संस्थान में शामिल होने से पढ़ाई नियमित रहती हैं|

समय सरणी से तैयारी:

प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कैसे करेपरीक्षा की तैयारी के लिए प्रतिभागियों को समय सरणी बनानी चाहिए| समय सरणी बनाने से कार्य में सफलता मिलने में कम समय लगता है| परीक्षा में जाने से पहले समय सरणी के अनुसार सभी कार्य समय पर करने चाहिए,इससे हमारा कोई भी विषय अपूर्ण नही रहेगा और सभी विषयों पर बराबर फोकस रहेगा| इसलिए परीक्षा की तैयारी के लिए समय सरणी का विशेष महत्व है|

>>>!!!!……..परीक्षा के लिए शुभकामनाएँ…..!!!<<<

  • answered 2 years ago
  • Community  wiki

0

प्रतियोगिता परीक्षा के लिए तैयारी कहाँ से और कैसे start करे - जानिये

दोस्तों कभी- कभी ऐसा भी होता है की हमे मेहनत के अनुकूल फल नही प्राप्त हो पाता है और हमे निराश होना पड़ता है | यदि हम रात- दिन एक करके पढ़ते है और हमारी मेहनत न दिखाई दे और परीक्षा में हमारे अनुकूल अंक नही प्राप्त होते है तो बहुत कष्ट होता है | जैसे-जैसे परीक्षा नजदीक आने लगती है वैसे-वैसे विद्यार्थियों की दिलो की धड़कन तेज़ होने लगती है | किसी ने कितनी भी मेहनत क्यों ही न की हो परन्तु वो nervous हो ही जाता है |


प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कैसे करे -
परीक्षा आज के जीवन में किसी भी क्षेत्र में भी बहुत महत्वूर्ण बन गई है | परीक्षा का मुख्य उद्देश्य छात्र के मस्तिष्क को देखने के लिए किया जाता है | किसी भी परीक्षा के अंक उस छात्र की क्षमता को दर्शाते है | आज कल बहुत सी प्रतियोगी परीक्षाये चल रही है जिनकी तैयारी के लिए कुछ उपयोगी तरीके अपनाये -तो निश्चित ही हमें सफलता प्राप्त होगी |

कहा से करें शुरुआत -
परीक्षा की तैयारी के समय हमे कुछ समझ में नही आता है कि तयारी करे कैसे ? शुरुआत कहाँ से करे ? ऐसे प्रश्न मन में उठते रहते है | यदि तैयारी स्वयं से करते है तो मुश्किले ज्यादा आती है क्योंकि तैयारी करने में जिस टॉपिक में हम हल करने में फंस जाते है तो उसका solution करने में काफी समय लग जाता है | यदि किसी इंस्टिट्यूट का सहारा ले लेते है तो इसमें कोई हर्ज़ नही है |

समय सरणी से तैयारी -
यदि कोई भी कार्य हम समय सरणी बनाकर करते है तो उस कार्य में सफलता मिलने में कम समय लगता है | इसलिए प्रतियोगी परीक्षा को सफल बनाने के लिए समय सरणी का भी एक विशेष महत्व है | यदि हम तैयारी समय सरणी नुसार कर रहे है तो हमारे सभी कार्य समय से होंगे | प्रत्येक विषय के लिए समय हम निकाल सकेंगे कोई भी विषय हमारा pending में नही पड़ा नही रहेगा , और सभी विषय पर बराबर फोकस बना रहेगा |

बनाये फार्मूला और याद करें मुश्किल चीज़े -
मैथ या अन्य विषय को हल करने के कुछ शार्ट त्रिकी फॉर्मूले बनाये जाते है जिनकी सहायता से प्रश्न को हम जल्दी हल कर सकते है , और हमारा समय बचता है | प्रतियोगी परीक्षा में समय का महत्व क्या होता है ये सभी को पता है |

परीक्षा में एक बार बैठने के बाद पता ही नही चलता है की समय कितनी जल्दी निकल गया | यदि हम परीक्षा में शार्ट त्रिकी का प्रयोग कर लेते है तो वही समय हम दूसरे सवालों के लिए प्रयोग में ला सकते है , और जो भी चीज मुश्किल लगे उन्हें याद कर लेना चाहिए | इस तरह परीक्षा सफल बना सकते है |

पैटर्न का ज्ञान -
किसी भी परीक्षा में जाने के पहले प्रश्न पत्र का पैटर्न अवश्य पता होना चाहिए | यदि हमे परीक्षा का पैटर्न पता होता है तो हमारा काफी समय बच जाता है | पैटर्न के पता होने से हमे परीक्षा बिलकुल नई सी नही लगेगी क्योंकि हमे प्रश्न पत्र का पैटर्न पहले से ही पता होगा | हमे ये ज्ञात रहेगा की इसमें कितने प्रश्न गणित , विज्ञानं , कंप्यूटर , तर्कशक्ति तथा कितने प्रश्न सामान्य ज्ञान तथा अंग्रेजी के पूछे जायेंगे |

यदि हमे पैटर्न पता है तो हम किसी भी परीक्षा को तैयारी करने के पश्चात सफल बनाने में कामयाब होंगे | यदि हमे पैटर्न का ज्ञान नही है तो कितनी भी तैयारी क्यों न हो , हमारा परीक्षा में कुछ तो समय अवश्य ही बर्बाद जायेगा |

परीक्षा के समय ध्यान देने योग्य बातें-
· परीक्षा देने जब भी जाये तो उसे 1 घंटा पहले कुछ भी न पढ़े अपना दिमाग शांत रखे . अपने आपको हंसी मजाक में उस वक़्त व्यस्त रखे |

· परीक्षा से पहले नींद का पूरा होना बहुत जरुरी है . इसलिए नींद पूरी करके ही जाए न की पूरी रात पढाई करनी है |जाने से पहले अपने आपको फ्रेश करके जाए |

· परीक्षा में आये सारें सवाल को एक बार अच्छे से और ठन्डे दिमाग से पूरा प्रश्न पढ़ ले |

· सबसे पहले जो भी प्रश्न आपको आता है उसे करे न की दूसरे प्रश्न पर अपना समय बर्बाद करे |

· हमेशा वो लाइन ही लिखे जिसका मतलब निकालता हो फालतू की लाइन लिख के अपना अमूल्य समय बर्बाद न करे |

· भले आप छोटा उत्तर लिखे पर उसका मतलब सही निकलता हो वो ही काफी है

इस तरह के कुछ टिप्स अपना के आप जरूर अच्छे अंक से पास हो सकते है ,तथा इस प्रकार हम प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर सकते है, और हमारे पोर्टल sarkarinaukricareer.in पर आपके के लिए ढेरो मोटिवेशनल आर्टिकल, करियर टिप्स एजुकेशनल न्यूज़ उपलब्ध हैं |

  • answered 2 years ago
  • Community  wiki

Your Answer

    Facebook Share        
       
  • asked 2 years ago
  • viewed 1771 times
  • active 2 years ago

Hot Questions