• support@answerspoint.com

हम कैसे पता लगाए कि सीने में होने वाला दर्द गैस का है या हार्ट अटैक का ?

702

कभी कभी  हमारे सीने में कही भी(बाये या दाये) अचानक से दर्द होने लगता है, जलन भी रहती है,  हम कैसे पता लगाए कि सीने में होने वाला दर्द गैस का है या हार्ट अटैक का ?

1Answer


0

सीने में गैस के दर्द को पहचानना बहुत मुश्किल है | लेकिन यदि आपको डकार या खट्टी डकार आए, भूख न लगे, अचानक कुछ खाने के बाद सीने में दर्द महसूस हो, तो समझ जाएं कि ये गैस का दर्द है। इसके साथ ही अगर आपको सांस लेने में परेशानी हो, जी मचलाए या चक्कर आने लगें या ठंडा पसीना आए, तो ये सब सीने में गैस बनने के लक्षण हैं।

हाट॔ अटैक आने से पहले बाए हाथ की कोहनी से कंधे तक का भाग दद॔ करता है| उसी तरह बाया कान या कनपटटी का भाग दद॔ करता है| गैस के कारण सीने मे होने वाले दद॔ मे ये लक्षण नही होते है|

रोगी को जब पेट के ऊपरी भाग में दर्द, जलन और बेचैनी होने लगती है तो उसे समझ में नहीं आ पता है की यह हार्ट अटैक है या फिर गैस का दर्द है । ज्यादातर लोग उसे एसिडिटी या गैस का लक्षण समझ लेते हैं। कार्डियॉलजी सोसायटी ऑफ इंडिया की कांफ्रेंस में केजीएमयू के प्रो़ ऋषि सेठी ने बताया कि हार्ट अटैक का दर्द छाती के बीच में दबाव जैसे एहसास के साथ होता है। यह शरीर के बाएं हिस्से में होता है जो कई बार जबड़े और ठुड्डी तक आ जाता है। उन्होंने बताया कि 15 से 20 मिनट तक दर्द बना रहे तो तुरंत किसी कार्डियॉलजिस्ट से संपर्क करें। कोशिश करें कि इसमें छह घंटे से ज्यादा का समय न लगे। छह घंटे से ज्यादा देरी रोगी के लिए लिए खतरनाक हो सकती है |
 

हार्ट अटैक की आशंका होने पर मरीज को जल्द से जल्द किसी कार्डियॉलजिस्ट के पास ले जाएं। बेहतर होगा कि एक घंटे के भीतर मरीज का इलाज शुरू हो जाए। हालांकि छह घंटे तक मरीज के हार्ट को होने वाला नुकसान रिकवर किया जा सकता है।

हार्ट अटैक से बचने के लिए हमे अपने दिनचर्या में कुछ बदलाव जरूर करना चाहिए जो निम्न है| :-

  • सुबह शाम आधे घंटे टहलने का समय निकालें। टहलने की रफ्तार इतनी होनी चाहिए कि आप हांफे नहीं। इससे शरीर के लिए उपयोगी कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने में मदद मिलती है।

  • भोजन में सलाद, सब्जियों तथा फलों का सेवन जरूरी है। यह रेशे और एंटी ऑक्सीडेंट्स के स्रोत होते हैं।

  • अगर गैस के कारण दद॔ है तो थोडा सा अदरक एक चुटकी सैधा नमक के साथ खाने से 5 मिनट के अंदर आराम मिलता है | अगर इस से आराम नही मिलता है तो ये हाट॔ अटैक का दद॔ हो सकता है

  • हाट॔ अटैक से बचने के लिए ऐसे व्यक्ति को श्यामा तुलसी के पत्तो को पीस ले और उसका आधा चम्मच रस पिला दे! ईस से उस व्यक्ति के शरीर मे ऑक्सीजन की मात्रा बढ जायेगी और जान बच जायेगी !

 

हार्ट अटैक आने पर क्या करें :-

  • हार्ट अटैक आने या उसकी आशंका होने पर तुरंत किसी कार्डियॉजिस्ट से संपर्क करे। अपने तरीकों से इलाज की कोशिश ना करे ये आपके लिए नुकसानदायक हो सकती है।

  • जब हार्ट अटैक आये मरीज को सीधा लिटाएं और उसके कपड़ों को ढीला कर दें। मरीज को लंबी सांस लेने को कहें।

  • सांस लेने में दिक्कत होने पर ऑक्सीजन की जरूरत पड़ सकती है।

  • पीड़ित के दोनों पैरों को उठा दें, जिससे हार्ट तक ब्लड सप्लाई पहुंच सके।

  • लक्षण दिखने के एक से दो घंटे के बीच इलाज शुरू कर देना चाहिए।

 

गैस का दर्द आने पर क्या करें :-

  • छाती में गैस का दर्द हो तो सबसे पहले बिना कुछ सोचे समझे खूब सारा नॉन-कार्बोनेटिड तरल पदार्थ का सेवन करें। इससे आपका डाइजेशन सही होगा और सीने से गैस आसानी से पास हो पाएगी।

  • ज्यादा से ज्यादा पानी पीना सबसे अच्छा इलाज है।

  • आप अदरक वाली चाय का सेवन भी कर सकते हैं।

  • एक्सरसाइज करना, वॉक करना या फिर कमर के बल लेटकर अपने पैरों को झटकारने से सीने में फंसी गैस आसानी से पास हो सकेगी।

यकीनन इन घरेलु नुस्खों को अपनाने से 35-40 मिनट के अंदर आपको गैस के कारण हो रहे चेस्ट पेन में आराम मिलेगा|
 

नॉन-कार्बोनेटिड पदार्थ

नॉन कार्बोनेटिड पेय पदार्थों में फलों का जूस, शरबत और स्वास्थ्यवर्धक पेय पदार्थ शामिल है। यहां ध्यान रखने वाली बात यह है कि बाजार में मिलने वाले कोल्ड ड्रिंक्स जैसे कोका कोला, पेप्सी बगैरह - बगैरह मरीज को इनका सेवन कतई नहीं करना चाहिए। मरीज को इनका आजीवन त्याग कर देना चाहिए। अन्यथा यह कोल्ड्रिंक्स उसके लिए जानलेवा हो सकते हैं।

  • answered 2 weeks ago
  • Community  wiki

Your Answer

    Facebook Share        
       
  • asked 3 weeks ago
  • viewed 702 times
  • active 2 weeks ago

Hot Questions