किसके कारण 4 साल बाद फरवरी का महिना 29 दिन का होता है?

पृथ्वी को सूर्य की परिक्रमा करने में 365 दिन 6 घंटे का समय लगता है| और जिसके कारण प्रत्येक सौर वर्ष में छह घंटे बढ़ जाते है, यही 6 घंटे जो हर  वर्ष बढ़  जाते  है उसे  हर चौथे वर्ष यानी लीप वर्ष में समायोजित कर लिया जाता है । इस लिहाज से लीप वर्ष 366 दिन का होता है । जिसकी वजह से फरवरी महीने में 28 के स्थान पर 29 दिन होते हैं.

    Facebook Share        
       
  • asked 7 months ago
  • viewed 1543 times
  • active 7 months ago

Latest Blogs