शुक्र ग्रह के बारे में बताये, इसका घूर्णन काल, द्रव्यमान, तापमान और इसके वायुमंडल के बारे में जानकारी दे| शुक्र ग्रह को पृथ्वी की बहन भी कहा जाता है ऐसा क्यू ?

शुक्र सौर मंडल का सूर्य से दूसरा सबसे निकट ग्रह और छठंवा सबसे बड़ा ग्रह है | इसका परिक्रमा पथ 108¸200¸000 किलोमीटर लम्बा है, व्यास : 12¸103.6 किमी है, और यह सूर्य की एक परिक्रमा करने में 243 दिन लगाता है। शुक्र सौर मंडल का सबसे गरम ग्रह है। शुक्र ग्रह को पृथ्वी की बहन भी कहा जाता है क्योंकि दोनो के आकार में काफी समानता पाई जाती है। शुक्र ग्रह का व्यास पृथ्वी के व्यास का 95 प्रतीशत तथा वज़न में पृथ्वी का 80 फीसदी है। शुक्र ग्रह पर सल्फुरिक ऐसिड़ के बादलों की कई किलोमीटर मोटी परतें है जो इसकी सतह को पूरी तरह से ढ़क लेती हैं। इस कारण से शुक्र ग्रह की सतह देखी नहीं जा सकती। इन बादलों के बीच में से 350 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ़्तार से तेज़ हवाएँ चलती हैं।

  1. सूर्य से दूरी लगभग 10 करोड़ 82 लाख किलोमीटर
  2. ध्रुवीय व्यास 12,104 किलोमीटर
  3. इस ग्रह का कोई उपग्रह नहीं है
  4. यहा एक साल धरती के 224.7 दिन के बराबर होती है
  5. इसका भू मध्य रेखा घेरा 38,025 किलोमीटर है
  6. द्रव्यमान (वज़न) 4,867,320,000,000,000 अरब किलोग्राम है
  7. तापमान 462 डिग्री सेल्सीयस
  8. शुक्र पर जीवन का होना तो नामुनकिन है
  9. शुक्र ग्रह का वायुमंडल मुख्य रूप से कार्बन डाय-आक्साईड का बना हुआ है
  10. शुक्र ग्रह का वायुमंडलीय दबाव पृथ्वी के वायुमंडलीय दबाव से 92 गुणा ज्यादा है।
    Facebook Share